चीन: यहां एक स्कूल के प्रिंसिपल को मिली 18 साल की सजा

Posted On:Saturday, February 19, 2022

China, 19 Feb (News Helpline)      चीन ने शिनजियांग में हाई स्कूल के एक उइगर प्रिंसिपल को 18 साल की जेल की सजा सुनाई है। प्रिंसिपल पर दो उइगर स्कॉलर्स को प्रेजेंटेशन देने के लिए आमंत्रित करने का आरोप है। शेरेप हेयट ने कई सांस्कृतिक कार्यक्रमों का किया, जिसमें उन्होंने जाने-माने उइगर बुद्धिजीवियों यलकुन रोजी और अब्दुकादिर जलालिदीन को लेक्चर देने के लिए बुलाया था।
 
चीनी अधिकारियों ने 2017 में शिनजियांग में 'री-एजुकेशन' कैंप्स के एक विशाल नेटवर्क में उइगर और अन्य तुर्क-भाषी मुसलमानों को हिरासत में लेना शुरू किया, यह कार्रवाई धार्मिक अतिवाद और आतंकवाद को रोकने के लिए के नाम पर हुई। लेक्चर के लिए बुलाए गए दोनों बुद्धिजीवी उसी समय से जेल में बंद थे। माना जाता है कि लगभग 1.8 मिलियन लोगों को शिविरों में रखा गया था।
 
हुसैनन शेरेप का पूर्व छात्र है, जो अब निर्वासन में रहता है। उसने कहा कि शेरेप को लगभग चार साल पहले कोरला में चीनी अधिकारियों ने हिरासत में लिया, लेकिन उसकी सजा का पता नहीं चला। हुसैनन ने कहा, "मुझे एक चीनी मित्र के माध्यम से उनकी 18 साल की सजा के बारे में पता चला। मैं इस खबर से बहुत दुखी था, लेकिन मुझे बिल्कुल भी आश्चर्य नहीं हुआ, क्योंकि उन्हें गायब हुए तीन या चार साल हो गए हैं। वह एक एलिट बुद्धिजीवी थे।"
 
तुर्की स्थित एक स्वतंत्र उइघुर शोधकर्ता अब्दुरेशिद नियाज ने 2021 रिपोर्ट में तैयार की थी। उन्होंने बताया, "चीनी अधिकारियों ने शिनजियांग में शिक्षकों और बुद्धिजीवियों को टारगेट किया है, क्योंकि वे उइगर समाज के दिमाग माने जाते हैं। साथ ही वो उइगर संस्कृति और पहचान को बनाए रखने के लिए काम कर रहे हैं।"
 
कोरला में एक चीनी पुलिस अधिकारी ने कहा कि वह शेरेप की गिरफ्तारी और हिरासत के बारे में जानते हैं। साथ ही उस अधिकारी को भी जानते हैं, जो इस मामले में शामिल था। उन्होंने यह भी साफ किया कि शेरेप 18 साल की सजा काट रहे थे, हालांकि वह नहीं जानते कि पूर्व प्रिंसिपल के परिवार के सदस्य कहां हैं और उनके साथ क्या हुआ।


बीकानेर, देश और दुनियाँ की ताजा ख़बरे हमारे Facebook पर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें,
और Telegram चैनल पर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

You may also like !

मेरा गाँव मेरा देश

अगर आप एक जागृत नागरिक है और अपने आसपास की घटनाओं या अपने क्षेत्र की समस्याओं को हमारे साथ साझा कर अपने गाँव, शहर और देश को और बेहतर बनाना चाहते हैं तो जुड़िए हमसे अपनी रिपोर्ट के जरिए. bikanervocalsteam@gmail.com

Follow us on

Copyright © 2021  |  All Rights Reserved.

Powered By Newsify Network Pvt. Ltd.