पैनल की रिपोर्ट के अनुसार, सुनक थे लॉकडाउन के खिलाफ, कहा था कोरोना से लोगों को मरने दो, जानिए पूरा मामला

Posted On:Tuesday, November 21, 2023

मुंबई, 21 नवंबर, (न्यूज़ हेल्पलाइन)। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक 2020 में कोरोना के दौरान दूसरा लॉकडाउन लगाने के खिलाफ थे। वित्त मंत्री के तौर पर उन्होंने कहा था कि लोगों को मर जाने दो। ब्रिटेन के कोरोना महामारी पर बने एक पैनल ने यह दावा किया है। यह पैनल इस बात की जांच कर रहा है कि ब्रिटेन में कोविड-19 को किस तरह से हैंडल किया गया था। बीते दिन हुई एक सुनवाई में पैनल ने बताया कि सुनक की कही बातों को सरकार के चीफ साइंटिफिक एडवाइजर पैट्रेक वालेंस ने एक मीटिंग के दौरान 25 अक्टूबर 2020 को डायरी में नोट कर लिया था। उस दौरान सुनक ब्रिटेन के वित्त मंत्री और बोरिस जॉनसन ब्रिटेन के प्रधानमंत्री थे। वे कोरोना से निपटने की रणनीति को लेकर चर्चा कर रहे थे। साथ ही, सुनक के प्रवक्ता ने कहा है कि प्रधानमंत्री किसी एक सवाल का जवाब देने की बजाय पूरे मामले पर सबूत के साथ पेश होंगे। कोरोना के दौरान ब्रिटेन में 2 लाख 20 हजार लोगों की मौत हुई थी। कोरोना पर बना पैनल 2026 तक अपनी जांच जारी रखेगा। सरकारी अधिकारियों ने आरोप लगाया था कि सरकार की टॉक्सिक अप्रोच की वजह से महामारी से निपटने में परेशानियां हुई थीं।

कोरोना के दौरान सुनक ने ईट आउट टु हेल्प आउट पॉलिसी शुरू की थी। इसके तहत लोगों को बाहर जाकर खाने के लिए प्रोत्साहित किया गया था। ताकि देश की अर्थव्यवस्था सुधर सके। इस पर सरकार के साइंटिफिक एडवाइजर ने सुनक को मौत का डॉक्टर कहा था। ब्रिटेन के पूर्व प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने 8 जून को अचानक अपनी सांसदी से इस्तीफा दे दिया। उन पर कोरोना के दौरान प्रधानमंत्री रहते हुए ब्रिटेन के PM ऑफिस में पार्टी करने के आरोप लगे थे। मामले की जांच के लिए ब्रिटेन के हाउस ऑफ कॉमन्स ने एक कमेटी बनाई थी, जिसकी रिपोर्ट में वे कसूरवार पाए गए थे। इसमें बोरिस जॉनसन पर पाबंदियां लगाने की बात कही गई थी। साथ ही, न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक सुनक की कंजर्वेटिव पार्टी ओपिनियन पोल में विपक्षी लेबर पार्टी से 20% पीछे चल रही है। ऐसे में कोरोना पैनल की रिपोर्ट से लोगों के बीच उनकी छवि कमजोर होगी। हाल ही में उनकी पार्टी में भी उनके खिलाफ विरोध के स्वर मजबूत हुए हैं। सुनक की ही पार्टी की सांसद एंड्रिया जेन्किंस ने हाल ही में उनके खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने के लिए लेटर लिखा था। उन्होंने कहा था- अब बहुत हुआ, हमारी पार्टी का लीडर एक ऐसा व्यक्ति है, जिसे सदस्यों ने खारिज कर दिया। अब पोल्स में साबित हो गया है कि जनता भी सुनक को पसंद नहीं करती है। अब समय आ गया है जब सुनक को चले जाना चाहिए। सुनक ने होम मिनिस्टर सुएला ब्रेवरमैन को पद से हटा दिया था, जिस बात से उनकी पार्टी के कुछ नेता नाराज हैं।


बीकानेर, देश और दुनियाँ की ताजा ख़बरे हमारे Facebook पर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें,
और Telegram चैनल पर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें



You may also like !

मेरा गाँव मेरा देश

अगर आप एक जागृत नागरिक है और अपने आसपास की घटनाओं या अपने क्षेत्र की समस्याओं को हमारे साथ साझा कर अपने गाँव, शहर और देश को और बेहतर बनाना चाहते हैं तो जुड़िए हमसे अपनी रिपोर्ट के जरिए. bikanervocalsteam@gmail.com

Follow us on

Copyright © 2021  |  All Rights Reserved.

Powered By Newsify Network Pvt. Ltd.